पूज्य श्री तनसिंह जी की 38वीं पुण्यतिथि 7 दिसम्बर,2017 को देश भर में विभिन्न स्थानों पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करके मनाई गई, जिनके संक्षिप्त समाचार इस प्रकार है-

जयपुर स्थित संघ मुख्यालय ‘संघशक्ति भवन’ में आयोजित कार्यक्रम में पूज्य श्री की तस्वीर के सामने दीप प्रज्वलित करके तथा पुष्प चढ़ाकर सभी ने श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके पश्चात सहगीत एवं अनेक भजन गाकर गुरुदेव को स्मरण किया। आदरणीय महावीर सिंह जी सरवड़ी सहित शहर के अनेक गणमान्य व्यक्ति कार्यक्रम में उपस्थित रहे। इसी प्रकार जोधपुर की बीजेएस कॉलोनी में स्थित राजवी पार्क में कार्यक्रम रखा गया। केन्द्रीय कार्यकारी श्री प्रेम सिंह रणधा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि पूज्य श्री तनसिंह जी द्वारा स्थापित श्री क्षत्रिय युवक संघ आज समाज मे संजीवनी की भूमिका निभा रहा है। कार्यक्रम को कर्नल किशोर सिंह शेखावत तथा शेरगढ़ प्रान्त प्रमुख चंद्रवीर सिंह ने भी संबोधित किया। इस दौरान संभाग प्रमुख महेंद्र सिंह गूजरावास, उम्मेद सिंह सेतरावा सहित जोधपुर शहर के स्वयंसेवक तथा अन्य समाजबंधु उपस्थित थे।
जालोर जिले में जालोर, भीनमाल, सांचोर, सायला क्षेत्रो में कार्यक्रम आयोजित हुए। जालोर-ग्रामीण प्रान्त के काणदर गांव में आयोजित कार्यक्रम में गणेश वंदना तथा दीप-प्रज्वलन के पश्चात पूज्य श्री की तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित की गई। संभाग प्रमुख श्री अर्जुन सिंह देलदरी ने पूज्य श्री के व्यक्तित्व एवं कृतित्त्व पर प्रकाश डाला तथा उनके जीवन से प्रेरणा लेने का आह्वान किया। जालोर शहर स्थित वीरमदेव राजपूत छात्रावास में आयोजित कार्यक्रम में छात्रावास के छात्रों के साथ ही शहर के राजपूत समाज की उपस्थिति रही। वीरबहादुर सिंह असाड़ा, कान सिंह बोकड़ा, ईश्वर सिंह सांगाणा आदि ने कार्यक्रम को संबोधित किया। भीनमाल स्थित गोपाल राजपूत छात्रावास में कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसमें सुमेर सिंह कालेवा, डूंगर सिंह पूनासा, जनक सिंह जेरण, कालूसिंह, महावीर सिंह कावतरा आदि ने तनसिंह जी के प्रति अपने विचार व्यक्त किए। सांचोर स्थित बल्लूजी छात्रावास में कार्यक्रम का शुभारंभ मंगलाचरण एवं प्रार्थना से हुआ, जिसके पश्चात दीप-प्रज्वलन एवं पुष्पांजलि अर्पित की गई। कार्यक्रम में सांचोर-रानीवाड़ा प्रान्त-प्रमुख शक्ति सिंह आशापुरा उपस्थित रहे। सांचोर के ही विरोल गांव में भी श्रद्धांजलि कार्यक्रम रखा गया, जिसमें प्रान्त प्रमुख के साथ प्रवीण सिंह सुरावा, देवेंद्र सिंह, चंदन सिंह विरोल, रेवन्त सिंह जाखड़ी, दुर्ग सिंह सुरावा सहित सुरावा, विरोल, हरियाली आदि गाँवों के सैकड़ों समाजबंधुओं ने भाग लिया। राजपूत छात्रावास सायला में भी कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें पूज्य श्री की तस्वीर पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन के पश्चात उनके जीवन-आदर्श पर चर्चा हुई। नागौर के मेड़ता में श्री चारभुजा राजपूत छात्रावास में आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ भूतपूर्व प्रधान श्री भंवर सिंह रोल चांदावता एवं दातार सिंह जी थांवला ने पूज्य श्री की तस्वीर पर अगरबत्ती व माल्यार्पण के साथ किया। कार्यक्रम केंद्रीय कार्यकारी श्री गजेंद्र सिंह आऊ एवं संभाग प्रमुख श्री शम्भू सिंह आसरवा की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ। गजेंद्र सिंह जी ने संघ कार्य को ईश्वरीय कार्य बताते हुए सभी से तनसिंह जी द्वारा दिखाए मार्ग पर चलने का आह्वान किया। वरिष्ठ स्वयंसेवक श्री दिलीप सिंह बच्छवारी, गोटन सरपंच श्री नारायण सिंह, पन्ने सिंह जी पुणयास ने भी इस दौरान अपने विचार रखे। नागौर प्रान्त प्रमुख उगम सिंह गोकुल ने कार्यक्रम का संचालन किया।
बाड़मेर में राजपूत मुक्ति धाम पर स्थित पूज्य श्री तनसिंह जी के स्मारक(छतरी) पर श्रद्धांजलि का कार्यक्रम उनके निर्वाण दिवस के अवसर पर प्रातः 5:30 बजे सम्भाग प्रमुख श्री देवीसिह माडपुरा की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ, जिसमें बाड़मेर शहर प्रांत की शाखाओं के स्वयंसेवक एवं शहर में रहने वाले वरिष्ठ स्वयंसेवकों सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे। बालोतरा स्थित वीर दुर्गादास राजपूत बोर्डिंग में आयोजित कार्यक्रम में जसोल रामद्वारा के महाराज संत श्री रघुवीर जी ने कहा कि तनसिंह जी स्वयं एक संत ही थे। मंगलाचरण, प्रार्थना एवं पुष्पांजलि के पश्चात चंदन सिंह जी चांदेसरा द्वारा पूज्य श्री के जीवन पर प्रकाश डाला गया। चांदेसरा सरपंच संजयप्रताप सिंह जी ने भी अपने विचार व्यक्त किए। चांधन प्रान्त में मूलाना गांव में स्थित श्री क्षत्रिय युवक संघ के शाखा मैदान में पुण्यतिथि मनाई गई। कार्यक्रम में चंदन सिंह, मेहताबसिंह, कैलाशसिंह, हम्मीर सिंह मूलाना, स्वरूप सिंह दवाड़ा, खुमाण सिंह हूरों का तला, रूप सिंह, उगमसिंह, गिरधरसिंह, सवाईसिंह, भवानीसिंह, मोहनसिंह सहित अनेकों समाजबंधु उपस्थित थे। जैसलमेर स्थित सम्भागीय कार्यालय तनाश्रम में 7 दिसंबर को प्रभात कालीन शाखा में पूज्य श्री तनसिंह जी के निर्वाण दिवस पर आए हुए स्वयंसेवकों ने पूज्य श्री की तस्वीर पर पुष्प अर्पित करने के बाद कार्यालय में श्रमदान कर पूज्य श्री को श्रद्धांजलि दी। इसके अतिरिक्त चौहटन, आबूरोड, गोपालसर, खन्दरा आदि स्थानों पर श्रद्धांजलि कार्यक्रम हुए। मुम्बई, सूरत सहित देश भर की शाखाओं में भी स्वयंसेवकों द्वारा पूज्य श्री को उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित की गई तथा उनके बताए मार्ग पर दृढ़ता पूर्वक चलने का संकल्प लिया। सोशल मीडिया पर भी व्यापक स्तर पर पूज्य श्री तनसिंह जी की पुण्यतिथि पर उनके प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनकी विभिन्न तस्वीरों, संस्मरणों और उनके उद्धरणों को साझा किया गया।

Share