10 सितम्बर 2017 दौसा प्रान्त के लिखली गाँव में स्नेहमिलन आयोजित हुआ। अक्टूबर माह में दौसा शहर में आयोजित होने वाले शिविर की तैयारियों के क्रम में इस स्नेहमिलन का आयोजन किया गया। मंगलाचरण एवं प्रार्थना के पश्चात कुचामन प्रान्त प्रमुख श्री नत्थू सिंह छापड़ा ने उपस्थित समाज-बंधुओं को श्री क्षत्रिय युवक संघ एवं उसके उद्देश्य, कार्यप्रणाली आदि से परिचित कराया। स्नेहमिलन में गांव के शिविर किये हुए बालक, उनके अभिभावक तथा परिजनों के साथ ही अनेकों समाज-बंधु उपस्थित हुए।

इसी दिन दक्षिण-पश्चिम जयपुर प्रान्त में स्थित राजनौता गाँव की लुणाजी की ढ़ाणी में स्नेहमिलन संपन्न हुआ, जिसमें अनेकों व्यक्ति श्री क्षत्रिय युवक संघ की संस्कार प्रणाली को जानने एवं समझने के लिए एकत्रित हुए। संघ के शिविर कार्यालय प्रभारी श्री राजेंद्र सिंह बोबासर ने समाज की वर्तमान स्थिति को रेखांकित करते हुए इस प्रकार के शिक्षण की अनिवार्यता बताई, वहीँ जयपुर संभाग प्रमुख श्री विक्रम सिंह सिंघाणा ने संघ का परिचय उपस्थित लोगों को दिया। श्री रेवत सिंह धीरा ने पूज्य तनसिंह जी का परिचय प्रस्तुत किया। प्रान्त प्रमुख श्री रामसिंह आकदड़ा भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे।

10 सितम्बर को ही शेरगढ़ प्रान्त के खियासरिया गाँव में भी स्नेहमिलन संपन्न हुआ, जिसमें प्रान्त के सवयंसेवको के साथ ही केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत भी अपने व्यस्त कार्यक्रम से समय निकालकर सम्मिलित हुए। स्नेहमिलन में श्री गजेन्द्र सिंह जी का स्वागत किया गया तथा संघ परिवार के होनहार सदस्य को इस उपलब्धि पर सभी स्वयंसेवकों की ओर से बधाई दी गई।

इसी दिन गुड़ामालानी प्रान्त में जेठमाल सिंह की ढ़ाणी, उण्डखा में भी स्नेहमिलन व स्नेहभोज का कार्यक्रमआयोजित हुआ। प्रान्त प्रमुख श्री गणपतसिंह बूठ ने आगामी महाबार शिविर हेतु विभिन्न स्वयंसेवकों को दायित्व देते हुए कहा कि माननीय संघप्रमुखश्री द्वारा सौंपे गए कार्य को हमें पूर्ण निष्ठा से निभाना है।

Share