श्री क्षत्रिय युवक के शीतकालीन शिविरों की श्रृंखला में 25 से 31 दिसंबर की अवधि में पांच शिविर और जुड़ें, जिनमें चार माध्यमिक प्रशिक्षण शिविर सम्मिलित है। ये शिविर आहोर, बीकानेर, देगराय, फोगेरा व सेमारी में सम्पन्न हुए।
जालोर संभाग में आहोर स्थित संस्कार पब्लिक स्कूल में 25 से 31 दिसंबर तक माध्यमिक प्रशिक्षण शिविर का आयोजन हुआ जिसका संचालन श्री खींव सिंह सुल्ताना ने किया। शिविर में पांचोटा, हिंगोला, अगवरी, उखरडा, थुम्बा, बाला, भवरानी, धींगाणा, डोडियाली, रोडला, सांडेराव, झाड़ोली, आलावा, भुण्डवा, मोरुआ,देसू, देलदरी, पचानवा, गुड़ा केसरसिंह, गुड़ा रामसिंह, सुरावा, केरिया, मंडली, रातड़ी, चाँदणा, काणदर, मंडला, दासपां, झलोड़ा आदि गाँवों सहित झीरिगढ़ (धौलपुर), भीमपुर, गोगुन्दा उदयपुर, कोटा आदि स्थानों से लगभग 105 युवाओं ने प्रशिक्षण प्राप्त किया।
इसी अवधि में जैसलमेर संभाग में रासला ग्राम पंचायत में श्री देगराय मंदिर परिसर स्थित जूनी जाल मंदिर में माध्यमिक प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न हुआ। वरिष्ठ स्वयंसेवक श्री देवीसिंह माडपुरा के संचालन में सम्पन्न इस शिविर में मुलाना, भैंसड़ा, मेहराजोत, साँवता, भोपा, दवाड़ा, सांकड़ा, सनावड़ा, लूणा, जिंजिनियाली, बडोडागांव, राजगढ़, रामगढ़, बड्डा, बैरिसियाला सहित जोधपुर, डूंगरपुर, बाड़मेर जिलों से भी शिविरार्थी सम्मिलित हुए। बीकानेर संभाग में भी इसी अवधि में शहर स्थित संघ कार्यालय नारायण निकेतन में माध्यमिक प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न हुआ। श्री शिम्भू सिंह आसरवा के संचालन में सम्पन्न शिविर में झंझेऊ, पुन्दलसर, लूणासर, करणीपुरा, किरतासर, शोभाणा, भादला, बेलासर, नयागांव, गड़ियाला, मेड़ी का मगरा गांवों के साथ ही पंचवटी छात्रावास, विजय भवन, नारायण निकेतन शाखाओं से भी स्वयंसेवक सम्मिलित हुए। शिविर के दौरान ही 30 दिसंबर को स्नेहमिलन भी आयोजित हुआ, जिसमें पूरे संभाग से स्वयंसेवक सम्मिलित हुए तथा आगामी सत्र हेतु कार्ययोजना तैयार की गई। इसी प्रकार शिव प्रान्त में 25 से 30 दिसंबर की अवधि में एक माध्यमिक प्रशिक्षण शिविर गांव के विद्यालय परिसर में आयोजित हुआ, जिसका संचालन केन्द्रीय कार्यकारी श्री गजेन्द्र सिंह आऊ ने किया। शिविर में फोगेरा, तुड़बी, जानसिंह की बेरी, भिंयाड़, उण्डखा आदि गांवों के युवाओं ने प्रशिक्षण लिया। इसी प्रकार एक प्राथमिक प्रशिक्षण शिविर सेमारी (उदयपुर) में 27 से 30 दिसंबर की अवधि में आयोजित हुआ। शिविर में भीमपुर, सेमारी, शक्तावतो का गुडा, चन्दौडा, मेडी, केजड, थडा, बाणा, भेकडा, बेमला, परतलिया, ऊपला गुडा, नीचला गुडा (उदयपुर), लाम्बापारडा, सज्जन सिह जी का गडा, अमर सिह जी का गडा, कलिंजरा (बांसवाडा), गेहूंवाडा, वालाई (डूंगरपुर), झीलवाडा (राजसमन्द) से लगभग 110 शिविरार्थियो ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। शिविर का संचालन श्री भँवर सिंह बेमला ने किया। शिविर के अंतिम दिन स्नेहमिलन भी रखा गया जिसमें आस-पास के क्षेत्र से समाजबंधु सम्मिलित हुए।

Share