श्री क्षत्रिय युवक संघ के प्राथमिक प्रशिक्षण शिविरों की श्रृंखला निरन्तर जारी है। इस कड़ी में विगत दिनों तीन शिविर सम्पन्न हुए।
बांसवाड़ा जिले के गढ़ी-प्रतापपुर में 7-10 जून की अवधि में बालिकाओं का प्राथमिक प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न हुआ, जिसमें चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा, उदयपुर, बांसवाड़ा व डूंगरपुर जिलों की राजपूत बालिकाओं ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। शिविर संचालन श्रीमती लक्ष्मी कँवर खारड़ा ने किया। श्री गंगा सिंह साजियाली एवं ब्रिजराज सिंह खारड़ा ने शिविर-व्यवस्था में सहयोग किया।

प्रतापगढ़ जिले के कुणी में 3-6 जून की अवधि में प्राथमिक प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न हुआ, जिसमें उदयपुर संभाग प्रमुख श्री भँवर सिंह बेमला के संचालन में क्षेत्र के राजपूत बालकों ने संघ का प्राथमिक स्तर का प्रशिक्षण प्राप्त किया। शिविर संचालक ने शिविरार्थियों को बताया कि संघ हमें राजपूत से क्षत्रिय बनाने का कार्य कर रहा है, जिसके लिए हमें संघ द्वारा यहाँ बताए गए सूत्रों को अभ्यास द्वारा अपने जीवन में ढालना है।

इसी प्रकार नागौर संभाग के कुचामन प्रान्त के ईडवा गांव में 7-10 जून की अवधि में प्राथमिक प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न हुआ, जिसमें आस-पास के गांवों के राजपूत बालकों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। शिविर का संचालन वरिष्ठ स्वयंसेवक श्री शिवबख्स सिंह चुई के निर्देशन में श्री नत्थू सिंह छापड़ा ने किया।

Share