श्री क्षत्रिय युवक संघ के जालोर संभाग के स्वयंसेवकों की बैठक 24 फरवरी को माननीय संघप्रमुख श्री के सान्निध्य में जालोर प्रान्त प्रमुख श्री गणपतसिंह भवरानी के आवास पर सम्पन्न हुई। स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए संघप्रमुख श्री ने कहा कि युवाओं पर ही समाज को दिशा देने का दायित्व होता है, किन्तु यदि युवा स्वयं दिशा-भ्रमित हो तो समाज भी गलत दिशा में बढ़ेगा। इसीलिए श्री क्षत्रिय युवक संघ समाज के युवाओं में क्षत्रिय संस्कारों के सिंचन में जुटा हुआ है, जिससे वे कौम, समाज, राष्ट्र व मानवता की रक्षा व सेवा में नियोजित हो सके। बैठक के दौरान संभाग में संघ-कार्य की प्रगति की समीक्षा भी की गई। इस दौरान श्री सुमेर सिंह धानपुर ने अपने पुत्र के विवाह के उपलक्ष में नारायण सिंह जी माणकलाव को राजपूत शिक्षा कोष हेतु दो लाख एक हजार रुपये भेंट किये। बैठक के दौरान जालोर जिला प्रमुख श्री वन्ने सिंह जी, श्री केशर सिंह शेखावत (पुलिस अधीक्षक, जालोर), राजेन्द्र सिंह जी (SDM जालोर),आहोर विधायक छगन सिंह राजपुरोहित, ठा. प्रदीप सिंह जी सियाणा, श्री मदन राज बोहरा, विशन सिंह जी खिरजा ने भी संघप्रमुख श्री से भेंट की।

इसी प्रकार श्री क्षत्रिय युवक संघ के महाराष्ट्र संभाग की शाखाओं के शिक्षकों की एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला केंद्रीय शाखा-कार्यालय प्रभारी श्री महेंद्रसिंह गुजरावास की उपस्थिति में ऐरोली, मुम्बई में 24 फरवरी को आयोजित हुई, जिसमें शाखा के महत्त्व, शाखाओ को प्रभावी बनाने हेतु नवाचार जैसे- अधिकतम संख्या दिवस, जयन्ती कार्यक्रम, जनरल नॉलेज, संघ सहित्य, विभिन्न विषय के विशेषज्ञ को बुलाकर उस विषय की जानकारी इत्यादि पर विस्तृत चर्चा हुई। शाखा प्रमुख, शिक्षण प्रमुख और विस्तार प्रमुख के दायित्व को भी विस्तार से समझाया गया तथा शिक्षण आदेशों के अर्थ व महत्त्व को समझाया गया। कार्यशाला में मुम्बई, सूरत व पुणे प्रान्त की शाखाओं के स्वयंसेवक उपस्थित रहे।

Share