27 से 30 सितंबर की अवधि में श्री क्षत्रिय युवक संघ के चार प्राथमिक प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न हुए, जिनके संक्षिप्त समाचार यहाँ प्रस्तुत हैं-
बीकानेर प्रान्त का प्राथमिक प्रशिक्षण शिविर रायसर गांव मे आयोजित हुआ। श्री शक्ति सिंह आशापुरा के संचालन में सम्पन्न इस शिविर में बेलासर, किरतासर, झंझेऊ, पंचवटी व राजपूत छात्रावास बीकानेर, नारायण निकेतन एवं विजय भवन शाखाओं के 100 से अधिक क्षत्रिय बालकों ने प्रशिक्षण लिया। पूर्व सरपंच नारायण सिंह रायसर ने व्यवस्था का जिम्मा सम्भाला तथा प्रान्त प्रमुख रेवंतसिंह जाखासर भी शिविर में उपस्थित रहे। 27-30 सितंबर की अवधि में ही पोकरण प्रान्त के बरडाना गांव में भी श्री अमर सिंह रामदेवरा के संचालन में शिविर सम्पन्न हुआ जिसमें बरडाना, आसकन्द्रा, ऐटा, भैसङा, राजगढ, दिधु, अजासर, अवाय, बैतीना, छायण, लोहारकी, सत्याया आदि गांवो के लगभग 90 युवा सम्मिलित हुए। श्री आम्बसिंह बरङाना व भंवरसिंह बरङाना ने ग्रामवासियों के सहयोग से व्यवस्था संभाली।
इसी प्रकार उदयपुर-ग्रामीण प्रान्त का प्राथमिक प्रशिक्षण शिविर मानखण्ड (फतहनगर) में सम्पन्न हुआ जिसका संचालन संभाग प्रमुख श्री भँवर सिंह बेमला ने किया। शिविर में बेमला, भेकडा, कांकरवा, चुण्डावत खेडी, जगत सिंहजी का खेडा, कदमाल, वांगरोदा, जगपुरा, कुंचौली, मानखण्ड, रावला कुआं आदि गांवों के लगभग 90 बालकों सम्मिलित हुए। सर्वश्री भौम सिंह चुण्डावत खेडी, स्वरूप सिंह बिजेरी, भैरू सिंह, अभय सिंह, राम सिंह, दिलीप सिंह (मानखण्ड) आदि ने मिलकर व्यवस्था संभाली। बालोतरा प्रांत के कांकराला गांव में भी इसी अवधि में एक शिविर आयोजित हुआ जिसमें समदड़ी, कल्याणपुर, बालोतरा, सिवाना, लूणी तथा पादरू क्षेत्र के लगभग 175 युवाओं ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। शिविर संचालन श्री मनोहरसिंह सिणेर ने किया। श्री देवी सिंह कांकराला ने राजपूत युवा संघ कांकराला के कार्यकर्त्ताओं के साथ मिलकर व्यवस्था का जिम्मा सम्भाला। प्रांतप्रमुख श्री राणसिंह टापरा भी शिविर में उपस्थित रहे।

Share