नागौर संभाग के अंतर्गत लाडनूं-सुजानगढ़ प्रान्त का स्नेहमिलन दिनांक 31-03-2019 को लाडनूं कस्बे की शंकर कॉलोनी में सम्पन्न हुआ। संघ के केन्द्रीय कार्यकारी श्री गजेंद्र सिंह आऊ तथा संभाग प्रमुख श्री शिंभू सिंह आसरवा की उपस्थिति में सम्पन्न कार्यक्रम में लाडनूं शहर में निवासरत बंधुओं के अतिरिक्त ढींगसरी, रताउ, छापड़ा, दूंकर, प्यांवा, कसुंबी, कोयल, लिखमीसर, खानपुर, टांगली, सिंघाना, मीरण, बैनाथा, थिरपाली, खारा, बागसरा, बेड़, डाबड़ी, मामड़ोदा, छप्पारा, बिठुड़ा, डेह, सांवराद, हरसोलाव, जालसु, टालनाउ आदि गांवो के साथ ही नागौर शहर व कुचामन शहर में रहने वाले समाजबंधुओं व मातृशक्ति ने भाग लिया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गजेंद्र सिंह जी ने कहा कि आज का मनुष्य विभिन्न भयों से घिरा हुआ है। भय का मूल अज्ञान है जिसके वशीभूत होकर हम नश्वर और शाश्वत के भेद को भूलकर नश्वर वस्तुओं में आसक्त हो जाते हैं और उनके नष्ट होने के भय से सदा आक्रांत रहते हैं। ज्ञान ही इन भयों से मुक्ति पाने का माध्यम है और उसी ज्ञान के शिक्षण का कार्य श्री क्षत्रिय युवक संघ कर रहा है। यज्ञ व प्रार्थना के साथ प्रारम्भ कार्यक्रम को सर्व श्री गोवर्धन सिंह डाबड़ी, नरपत सिंह गौड़, राजेंद्र सिंह धौल्या, जितेन्द्र सिंह सांवराद, हरि सिंह कोयल तथा गजेन्द्र सिंह ओडिट ने भी संबोधित किया। लाडनूं ठा. सा. श्री मनोहर सिंह व श्री प्रताप सिंह कोयल भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे। स्नेहभोज के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

Share