12 से 15 अगस्त,2018 की अवधि में श्री क्षत्रिय युवक संघ के 2 प्राथमिक प्रशिक्षण शिविर महाराष्ट्र तथा गुजरात राज्य में आयोजित हुए।
महाराष्ट्र में ओम महादेव गिरी आश्रम वाप्पेपाडा, शाहपुर में आयोजित शिविर में मुम्बई तथा पुणे प्रान्त की शाखाओं के लगभग 115 स्वयंसेवकों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। शिविर संचालन संघ के केंद्रीय कार्यकारी श्री गजेन्द्र सिंह आऊ ने किया। विदाई कार्यक्रम में उन्होंने शिविरार्थियों से यहां उपार्जित गुणों को अपने जीवन में स्थायित्व प्रदान करने का आह्वान किया। शिविर की आयोजन व्यवस्था स्वरूप सिंह जी भांडु कल्ला ने अन्य स्वयंसेवकों के सहयोग से संभाली।

इसी प्रकार गुजरात में सूरत प्रान्त के प्राथमिक प्राथमिक प्रशिक्षण शिविर का आयोजन स्वप्न दृष्टि बंग्लोज, सूरत में हुआ। इस शिविर में सिलवासा तथा सूरत क्षेत्र के राजपूत बालक व युवा सम्मिलित हुए। केंद्रीय कार्यकारी तथा शिविर के संचालक श्री प्रेम सिंह रणधा ने अपने विदाई उद्बोधन में कहा कि श्री क्षत्रिय युवक संघ का कार्य लोकसंग्रह का कार्य है। एक का उद्देश्य सभी का उद्देश्य बन जाये, यही वास्तविक लोकसंग्रह है और इस प्रकार की शिक्षण-पद्धति से प्रशिक्षित लोगो का संगठन ही सच्चा संगठन है। ऐसा संगठन ही समय की मांग को पूरा कर सकता है। शिविर की आयोजन व्यवस्था श्री प्रेम सिंह रेवाडा ने राजस्थान राजपूत समाज के कार्यकर्त्ताओं के साथ मिलकर संभाली। सूरत प्रान्त प्रमुख श्री खेत सिंह चांदेसरा भी शिविर में सम्मिलित रहे।

Share